ABVP व दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों का दिल्ली विश्वविद्यालय के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन , डूसू व अभाविप के साथ कल‌ होगी कुलपति की मीटिंग ।

आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद तथा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ ने दिल्ली विश्वविद्यालय की आर्टस् फैकल्टी में डीयू प्रशासन के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद तथा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ ने प्रशासन के समक्ष दिल्ली विश्वविद्यालय में सप्लीमेंट्री परीक्षा शुरू करने , 24×7 लायब्रेरी शुरू करने , नए छात्रावासों के निर्माण , स्पोर्ट्स स्टूडेंट्स का आहार भत्ते में बढ़ोतरी , प्रत्येक कॉलेज में स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं काउंसलर की उपलब्धता तथा दिव्यांग छात्रों के लिए टेक्टाईल व सुविधाजनक कैंपस आदि मांगों के लिए यह प्रदर्शन किया ।

प्रदर्शन में शामिल छात्रों को ‌‌‌‌‌‌संबोधित करते हुए डूसू अध्यक्ष शक्ति सिंह ने कहा कि , ” हम कई बार प्रशासन से अपनी मांगों को लेकर बातचीत कर चुके हैं , लेकिन प्रशासन लगातार बुनियादी सुविधाओं को उपलब्ध करवाने में हीलाहवाली कर रहा है । डीयू की सेंट्रल लाइब्रेरी सहित कई कॉलेजों के पुस्तकालय बुनियादी मानक नहीं पूरा करते , छात्रों की संख्या के अनुपात में न तो लाएब्रेरी है और न ही हॉस्टल । दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन की हिटलरशाही का ही नतीजा है कि लगातार डीयू अन्य विश्वविद्यालयों से पिछड़ता जा रहा है । ”

डूसू सह-सचिव ज्योति चौधरी ने कहा कि , ” स्त्री रोग विशेषज्ञ व काउंसलर का प्रत्येक कॉलेज में होना बेहद जरूरी है , कई कॉलेज मेडिकल रूम में काउंसलर होने का दावा करते हैं लेकिन यह सुविधाएं उनके कॉलेज में सुचारू से नहीं चल रही हैं । छात्रों के स्वास्थ्य को देखते हुए ये मांगे पूरी होना जरूरी है ।”

अभाविप दिल्ली के प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ यादव ने कहा कि , ” अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद समस्यामुक्त कैंपस चाहती है , अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इन समस्याओं के लिए लंबे समय से संघर्षरत रही है , आज के प्रदर्शन के बाद कुलपति ने हमें मिलने का समय दिया है । यदि कल प्रस्तावित बैठक में कुलपति हमारी मांगों को मान नहीं लेते तो हमारा संघर्ष और तेज होगा । “

Comments

comments