बॉलीवुड का एक बड़ा सच बताया शर्लिन चोपड़ा ने कि डिनर पर बुलाए जाने का सच

तनुश्री दत्ता की बदौलत फिल्मी दुनिया में फैले ‘मी टू’ कैंपेन में अभी भी दहक कायम है। अब अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा ने अपनी बात रखी है। उन्होंने बॉलीवुड में डिनर का मतलब समझाया है जो कि इस मुद्दे से ही जुड़ा है।

बोल्ड तस्वीरें खिंचवाकर प्रसिद्ध हुई शर्लिन चोपड़ा ने मुंबई में पत्रकारों को बॉलीवुड में डिनर का मतलब बताया है। शर्लिन चोपड़ा ने कहा है कि बॉलीवुड में निर्माता-निर्देशक जब कभी किसी अभिनेत्री को डिनर पर बुलाते हैं, तब इस बात को समझ लेना चाहिए कि वहां पर मात्र डिनर ही नहीं होगा। बल्कि वहां पर सेक्सुअल फेवर भी मांगे जाएंगे। इस बारे में बताते हुए शर्लिन चोपड़ा कहती हैं, ‘जब मैं निर्माता-निर्देशकों को काम के लिए अप्रोच करती थी। तब वह मुझे रात को डिनर पर खाने के लिए बुलाते थे। जिसके बाद निर्माता निर्देशकों से कहती थी कि डिनर कर लिया है और अब उनके ऑफिस में आकर डिनर क्यों करूंगी।’

इस मौके पर शालिनी चोपड़ा ने यह भी कहा ‘धीरे-धीरे इस बात का मतलब समझ में आ गया कि डिनर का मतलब कुछ और भी होता है। इसके बाद मैंने तय किया कि मैं सिर्फ प्रतिभाशाली निर्माताओं और निर्देशकों के साथ ही मिलूंगी और काम मांगूंगी।’

शर्लिन चोपड़ा ने यह भी कहा कि बॉलीवुड में यह कोई एक निर्माता-निर्देशक का काम नहीं है, बल्कि कई लोग ऐसा करते हैं और ऐसा छोटे शहर से आए हुए लोगों के साथ ज्यादा होता है। शर्लिन चोपड़ा ने हाल ही में उनका नया सिंगल तुनु तुनु लॉन्च किया है, जिसे लेकर वह बहुत उत्साहित हैं।

Comments

comments