अभी से हो जाएं सावधान काफी तेज़ी से फैल रही है यह बीमारी

आज की इस अस्त-व्यस्त जीवन शैली के कारण तरह तरह के रोग आए दिन देखने को मिली है| कुछ रोग तो ऐसे हैं जो आम हो चुके हैं जैसे की खाज, खुजली, बुखार, प्लेट डाउन आदि| लेकिन आज के इस पोस्ट में हम आपको जिस बीमारी के बारे में बताने वाले हैं वह बीमारी वैरीकोज वेंस के नाम से जानि जाती हैं| वैरीकोज वेंस बीमारी होने पर आम तौर पर नसें नीली दिखाई देने लगती है| इस बीमारी में नसों का आकार बढ़ जाता है| यह बीमारी होने पर पैरों में असहनीय दर्द होता है| इसलिए आपको इस बीमारी के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है|

उम्र बढ़ने के साथ साथ शरीर में मौजूद नशे अपना लचीलापन खो सकती है| जिसकी वजह से इन में खिंचाव हो सकता है| यह बीमारी होने पर नसों का वाल्व कमजोर हो सकता है और दिल की ओर बढ़ने वाला रक्त उल्टी तरफ बहने लगता है| इस स्थिति में नशे फुल जाती है जो वैरीकोज वेंस बन जाती है| इसके अलावा जो लोग मोटापे से ग्रसित हैं उन्हें में वैरीकोज वेंस होने का खतरा बढ़ जाता है ।

वैरीकोज वेंस को पूरी तरह से रोकने का तरीका फिलहाल मौजूद नहीं है| लेकिन रक्त परिसंचरण में सुधार करके इस रोग से होने वाले जोखिम को कम किया जा सकता है।

Comments

comments