PIL गैंग के एक और झूठ का पर्दाफाश हुआ, जस्टिस लोया की मौत प्राकृतिक : SC

आज सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाते हुए जस्टिस लोया की मौत मौत मौत को लेकर जितनी भी याचिकाएं दाखिल की गई थी उन सभी को खारिज करते हुए यह बताया कि उनकी मौत प्राकृतिक तरीके से हुई थी। जस्टिस लोया सोहराबुद्दीन केस से जुड़ी मामलों की सुनवाई कर रहे थे ।

सुप्रीम कोर्ट ने आज अपने फैसले में यह भी कहा कि जस्टिस लोया किसी साजिश के तहत उनकी मौत नहीं हुई है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने अपने जजमेंट में यह यह भी कहा कि याचिकाकर्ताओं न्यायपालिका को बदनाम करने की कोशिश की है । जस्टिस लोया की मौत 1 दिसंबर 2 2014 को सुबह हार्ट अटैक से हुई थी। उनकी मौत के बाद ही उस पर राजनीति शुरू हो गई थी ।

और उसके नतीजे में देश की सबसे बड़ी मजबूत पार्टी भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह संदेह के घेरे में थे । परंतु आज सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से बात पूरी तरह साफ हो गई । हालांकि आज सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट के तुरंत बाद उनके फैसले पर कांग्रेस ने संदेश जाता तो वहीं भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है

Comments

comments