कॉमनवेल्थ गेम्स में जब 50 ओवर का क्रिकेट भी हुआ था शामिल

ये बात है साल 1998 की जब मलेशिया ने हुए 16 वें कॉमनवेल्थ गेम्स में क्रिकेट के 50 ओवर के फॉर्मेंट में शामिल किया गया । भारत ने भी इसमें भाग लिया परन्तु उसका प्रदर्शन काफी बेकार रहा और सेमीफाइनल तक मैं नहीं पहुंच पाया ।

दरअसल उस समय भारत की टीम को सीरीज खेलने के लिए कनाडा जाना था परंतु उसी समय कॉमनवेल्थ गेम्स भी थे , ऐसे के बीसीसीआई ने तय किया कि अजय जडेजा की कप्तानी में सचिन तेंदुलकर , अनिल कुंबले जैसे सीनियर खिलाड़ी कनाडा जाएंगे तो वहीं हरभजन सिंह , वीवीएस लक्ष्मण जैसे युवा खिलाड़ी मलेशिया कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेंगे ।

16 वें कॉमनवेल्थ गेम्स की क्रिकेट टीम का ग्रुप

ग्रुप A : जमैका , मलेशिया , श्रीलंका , जिम्बाब्वे

ग्रुप B : एंटीगुआ और बारबुडा , ऑस्ट्रेलिया , कनाडा , भारत

ग्रुप C : बांग्लादेश , बारबाडोस , नार्थ आयरलैंड , दक्षिण अफ्रीका

ग्रुप D : केन्या , स्कॉटलैंड , न्यूज़ीलैंड , पाकिस्तान

इस कॉमनवेल्थ गेम्स में में हर ग्रुप की विजेता टीम ही सेमीफाइनल में प्रवेश करती । भारत कनाडा से जीत , एंटीगुआ के खिलाफ मैच बेनतीजा रहा व ऑस्ट्रेलिया से 146 रनों की बड़ी हार के साथ ग्रुप में दूसरे स्थान पर रहा और इस गेम्स से बाहर हो गया ।
इस इवेंट का गोल्ड मैडल दक्षिण अफ्रीका ने शॉन पोलाक की कप्तानी में जीता ।

दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को हरा कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया था , ऑस्ट्रेलिया को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा । ब्रांच मैडल के लिए हुए मुकाबले में न्यूज़ीलैंड ने श्रीलंका को हरा कर ब्रांच मैडल पर कब्ज़ा किया था ।

Comments

comments