Puri’s Jagannath Temple पुजारियों ने ममता बनर्जी को नहीं घुसने दिया मंदिर में

Puri's Jagannath Templeपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के Puri’s Jagannath Temple में मंदिर के एक सेवायत (पुजारी) सोमनाथ कुंठिया ने पूजा करने पर आपत्ति दर्ज कराई है। ममता बनर्जी के बीफ खाने का समर्थन करने वाले बयानों के चलते जगन्नाथ मंदिर के  पुजारियों ने उनके मंदिर में पूजा करने का विरोध किया है. पुजारी की इस आपत्ति से राजनीतिक पारा चढ़ता नजर आ रहा है। तृणमूल कांग्रेस ने उसकी इस हरकत के पीछे भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है।

वहीं, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने इससे इंकार करते हुए कहा कि ममता गोमांस खाने वालों के पक्ष में हमेशा बोलती रही हैं, लिहाजा पुजारी को उनकी धार्मिक आस्था पर संदेह हुआ होगा इसलिए उन्होंने आपत्ति जताई होगी। मंमता बनर्जी पश्चिम बंगाल में हिन्दुओं पर जुल्म कर रही हैं और वोट लेने के लिए Puri’s Jagannath Temple में क्या करने जा रही हैं ये दिखावा नहीं चलेगा। हिन्दुओ का वोट लेने के लिए मंदिर जा रही है, और नवरात्र मे उन्हें मूर्ती नही स्थापित करने देती।

ऐसी महिला को Puri’s Jagannath Temple घुसने तो क्या दूर से देखने पर भी पाबन्दी लगाना चाहिए जो औरत अपने धर्म नही हो सकती उस पर पाबन्दी सही है। गौ मांस खाने का समर्थन करने वाले के साथ ऐसा ही बर्ताव होना चाहिए । जिस तरह मुल्ला मौलवी को फतवा देने का अधिकार है ठीक उसी तरह हर पंडित पुजारी को सनातन धर्म की रक्षा के लिए ऐसे निर्णय करना जरूरी है। आज हर कोई पुजारी की इस बात का समर्थन कर रहा है।

ममता जी को तो मक्का मदीना, अजमेर शरीफ या फिर किसी और मस्जिद या दरगाह पे जाना चाहिए पवित्र Puri’s Jagannath Temple कहा जा रही है। हिन्दूओ की हत्या,गौ हत्या कराने वाली ममता बनर्जी का प्रवेश रोक कर बिलकुल सही कदम उठाने वाले पुजारी के साथ अन्याय को सहन नहीं करेगे हिन्दू।जब खुद पर बिता तो तकलीफ हो गया और आपने पुरे बंगाल में अत्याचार और हिंदुओ को पूजा पाठ से रोक रखा है तो उनका गुस्सा कितना ज्यादा होगा।

Comments

comments