सोने चाँदी रखने वालो के लिए अच्छी खबर सरकार का बड़ा फैसला

अब आपके घर में रखे सोने पर कोई खतरा नहीं है और केंद्र सरकार द्वारा सोने पर टैक्‍स लगाने और इसकी सीमा तय करने को लेकर चल रही अफवाहों के गरम बाजार पर वित्‍त मंत्रालय ने सफाई दी है. केंद्र सरकार ने घर में रखे सोने और गहनों के लिए नए नियम जारी कर दिए हैं और अपनी आय के हिसाब से सोना रखने पर आपके लिए कोई खतरे वाली बात नहीं है. केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने कहा है कि आपकी घोषित आय और घरेलू बचत से खरीदे सोना या ज्वैलरी टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे.

आइये जानते है नए नियम

  • इस नए नियमों के तहत शादीशुदा महिलाओं के पास 500 ग्राम तक के सोने पर कोई हिसाब नहीं मांगा जाएगा और उनके पास इतना सोना होने पर सरकार की तरफ कोई पूछताछ नहीं होगी.
  • नियम के अनुसार विवाहित महिला का 500 ग्राम तक का सोना जब्त नहीं होगा.
  • वहीं नियम के अनुसार अविवाहित लड़कियां 250 ग्राम सोना रखने पर आयकर विभाग के जांच से बाहर रहेंगी. वहीं एक घर में 100 ग्राम तक के पुरुषों के गहने मिलने पर कोई हिसाब नहीं मांगा जाएगा.
  • घर में रखे हुए सोने पुश्तैनी गहनों और सोने पर भी टैक्स नहीं लगेगा. आपके पास इसका हिसाब होगा तो आयकर विभाग की तरफ से छापेमारी में छूट मिल जाएगी.

अगर आपके पास सोना है तो आपको बिलकुल डरने की जरूरत नहीं है कि आपके घर में रखे सोने पर केंद्र सरकार की नजर है. ये नियम केवल उन लोगों के लिए हैं जिनके यहां आयकर विभाग का छापा पड़ सकता है. आयकर विभाग का छापा पड़ने पर सोने की तय लिमिट से ज्यादा सोना पाए जाने पर ही आपसे पूछताछ होनी तय है. अगर सोने की मात्रा ज्यादा पाई जाती है लेकिन आपके पास उसका हिसाब किताब सही है तो भी आपको घबराने की जरूरत नहीं है. इसके साथ-साथ लोगों की आय के हिसाब से सोना रखने पर सरकार की कोई पाबंदी नहीं होगी.

आइये जानते है क्यों करना पड़ा सरकार को ये ऐलान?
जब केंद्र सरकार ने इनकम टैक्स कानूनों में संशोधन किए तो उसके बाद लोगों के बीच सोने और गहनों को लेकर अटकलें चल रही थीं और अफवाह थी कि केंद्र सरकार सोने पर भी नया टैक्स लगाएगी और घर में रखे सोने पर भी नजर रखी जा रही है. लेकिन अब केन्द्रीय वित्त मंत्रालय के स्पष्टीकरण के बाद लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है. नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स में नए संशोधनों के बाद सोने पर चल रही अटकलों पर केन्द्रीय वित्त मंत्रालय ने स्थिति साफ कर दी है.

 

Comments

comments